चढ़ती थी उस मज़ार में..

चढ़ती थी उस मज़ार में चादरें बेशुमार,
और बाहर बैठा एक फ़क़ीर सर्दी में मर गया..

chadhti thi us mzaar mein chaadrein Beshumar,
aur bahar baitha ek faqir sardi mein mar gya..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *